Friday, March 18, 2016

my kisan dost

bina khet or mitthi ke kheti krne ka aadhunik tarika Hydroponics खेती की नई तकनीक जाने

bina khet or mitthi ke kheti krne ki takanik jane hini me.

नमस्कार मित्रो। पोस्ट का tital देख के आप सोच रहे होगे की बिना खेत और बिना मिट्ठी के खेती केसे करे। लेकिन ये बात बिलकुल सच है। यदि आप खेती करना चाह रहे हो और आपके पास खेत नही हे फिर भी आप आधुनिक तरीके अपना कर अच्छे से खेती कर सकते हो।दुनिया में बहुत से इसे देश हे जहा पर उपजाऊ जमीन नही है। लेकिन खाने के लिए तो उन्हें भी सब्जिया फल अनाज आदी चाहिये। वो सभी देश आधुनिक तरीके अपना कर खेती कर रहे हे।
बिना खेत के खेती का आधुनिक तरीका
आज हम उन में से जो एक तरीका है Hydroponics तकनीक उस पर बात करेगे। और जानेगे की क्या हैHydroponics ।

हाईड्रोपोनिक तकनीक क्या है ?

हाईड्रोपोनिक ( Hydroponics)
ये वो तकनीक हे जिस से बिना मिट्टी और खेत के फसले और सब्जियों को उगाया जाता हे। इसमें फसलो को उगाने के लिए पानी और अन्य पोषक तत्वों  का प्रयोग किया जाता है।
आप इस तकनीक से अपनी घर की छत अपने रूम या बहुत कम जगह वाली और बिना खेत के भी फसल और सब्जियों की खेती कर सकते हे।
इस तकनीक से सीधे पोधो की जडो को आवश्यक तत्वों की पूर्ति कर के उगाया जाता है। इस तरीके से आप west पड़ी जमीन अनुपजाऊ जमीन पहाड़,रेतीली,और शहरी क्षेत्रो में मकानों में भी कम पानी और सिचाई दे कर कर सकते है।

इस तकनीक से कोन कोन सी खेती कर सकते है।

हाईड्रोपोनिक तकनीक  का उपयोग कर के लगभग सभी तरह की फल सब्जिया ,सलाद,अनाज फुल ओषधीया अभी सफलता पूर्वक उगाई जा सकी हे। और निरंतर बची हुई फसलो पर भी खोज जारी हें।
सफलता पूर्वक अभी तक उगाई गयी फसल
शलगमगाजर,ककड़ी,मुली,टमाटर,मटर,आलू,शिमला मिर्च,मिर्च,
धनिया,पुदीना,तुलसी,अजवाईन के फुल।
फल>> तरबूज,खरबूजा,पाइनेपल,स्टोबेरी,ब्लॉकबेरी,ब्लूबेरी,अगूर खीरा आदि और कही कही तो केले और नीबू को भी विकसति किया जा सका
और बहुत सी फुल वाली किस्मे सफलता पूर्वक खेती की जा सकी हें।
यह भी पढ़े।
बैगन की वैज्ञानिक तरीके से खेती
घर पर पशु आहार केसे बनाये
बोरवेल के लिए जमीन में पानी
प्याज का बीज केसे बनाये

 Hydroponic Systems के प्रमुख अंग होते है।

1 Drip System(सिचाई प्रबंध का आधुनिक तरीका)
2 Ebb- Flow Flood & Drain(पोषक तत्वों का aoutometic देना)
3 N.F.T. Nutrient Film Technique(बिजली पानी जलगलन,बहाव,आदि कंट्रोल करना)
4 Water Culture(हवा पानी बुलबुले,पोधा सरक्षण,एयर कंट्रोल)
5 Aeroponics(कंप्यूटर से वातावरण,स्प्रेकाल,सेसिग,)
6 Wick System(बाती प्रणाली रास्सी ढोरी से पानी पहुचना)
इन 6 सिस्टम से पूरी प्रणाली को सुचारू रूप से बड़े पैमाने पर चलाया जा सकता हे।
छोटे रूप में इस प्रणाली के लिए भी बाज़ार में काफी यंत्र उपलब्ध है।

हीड्रोपोनिक्स खेती के फाइदे

● अन्य खेती की तुलना में कम प्रदूषित खेती
● कम पानी की आवश्यकता वाली खेती
● कम मजदुर और श्रम वाली खेती
●  यह स्वचालित और आसानी से नियंत्रित की जा सकती हे
● पारम्परिक खेती की तुलना में कम जगह पर की जा सकती है।
● ज्यदा उत्पादन लेने के लिए ग्रीनहाउस तकनीक से जोड़ा जा सकता है।
● कीटनाशक और खतपतवार से सुरक्षित
● मिट्ठी जनित रोग और  किट रोगों से मुक्ति
● आने वाले समय की माग।
● फसल चक्रण और जुताई लागत से छुटकारा

हाइड्रोपोनिक प्रणाली के नुकसान

● शुरुवाती लागत अधिक होती है।
● लगातार निगरानी की आवश्यकता
● तकनिकी ज्ञान की आवश्यकता होनी चाहिए।
● बिजली की आवश्यकता लगातार होती है।
लाभ की तुलना में इस प्रणाली में नुक्सान कम ही हे। और आने वाले समय में लगातार भूमि का बटवारा और ओधोगिकरण के चलते और जमीन का उपजाऊ पन की कमी के कारण इस प्रणली की माग बढना सम्भावित है।
बहुत जल्द इस प्रणली पर और लेख लिखने वाला हु मित्रो।
लगातार नई पोस्ट पाने के लिए subcraibe जरुर करे और फेसबुक पेज like करे।

my kisan dost

About my kisan dost -

हेल्लो दोस्तों मेरा नाम yash jat है mykisandost.com मैने बनाई है 5 साल तक job करने के बाद अब में खेती करता हु में एक किसान का बेटा हु और हमेशा से ही खेती में मेरा लगाव रहा है मुझे खेती करना और अपने किसान दोस्तों की मदद करना अच्छा लगता है! जितना हो सके में उनसे सीखता हु और मेरे पास जो भी खेती किसानों से जुड़ी जानकारी होती है वो में इस webside के जरिये उनके साथ शेयर करता हु ताकि हम सब खेती से अधिक लाभ ले कर उन्नति कर सके...red more...

Hamari post Email par pane ke liye email id dale :

8 comments

Write comments

पोस्ट के बारे में अपनी राय और comment यहाँ करे।